सावधान: यहाँ से MLM डेटाबेस, क्लॅसीफाइड्स, न्यूज़, बिल्कुल फ्री है. इसका कोई चार्ज नहीं है, हमारा कोई एजंट नहीं है. हमारी कोई दूसरी वेबसाइट नहीं हे. कोई भी आपको हमारे नामसे एडवरटाइजिंग की बात करे तो पहले हमसे संपर्क करे. MLM डायरी के नाम से कोई लेनदेन करने से पहले कृपया हमसे बात करे. 8866409933

इंदौर। धोखेबाज कंपनियों (चिटफंड) के खिलाफ शिकायतों का अंबार लगा तो धोखेबाजों को पकडऩे निकले अफसर भी धोखा खा गए। बगैर तैयारी अफसर कार्रवाई करने निकले तो कहीं कार्यालय बंद थे तो कहीं कागजात गायब। प्रशासन के सूचना तंत्र की खामियों के चलते विभाग को मुंह की खाना पड़ी।
 
कलेक्टर पी. नरहरि के निर्देशन में अलग-अलग दल बनाकर एसडीएम के नेतृत्व में 19 से अधिक कंपनियों पर कार्रवाई करने अफसर निकले। अधिकतर चिटफंड कंपनी के कार्यालय बंद मिले या फिर कंपनियों ने कार्यालय से दस्तावेज गायब कर दिए। अधिकारियों को जांच में अधिकांश पतों पर ताले और सील लगी मिली। निवेशकों ने पुलिस के साथ जिला प्रशासन को शिकायत की, लेकिन कार्रवाई में देरी या लापरवाही के चलते जनता परेशान होती रही।
 
रियल लाइफ
एसडीएम अजीत श्रीवास्तव दोपहर में आरएनटी मार्ग स्थित श्रीवर्धन कॉम्प्लेक्स पहुंचे तो वहां रियल लाइफ कन्ज्यूमर केयर प्राइवेट लिमिटेड का कार्यालय बंद मिला। एक निवेशक सामने आया, जिसने बताया कि उसने 20 हजार रुपए निवेश किए थे। पैसा लौटाने की बारी आई तो कंपनी भाग गई। यहां शेयर कारोबारी के कार्यालय पर पड़ताल कर चिटफंड कंपनी की पूरी जानकारी ली। पोलो ग्राउंड स्थित प्लेथिको कार्यालय पर टीम पहुंची तो वहां पर चिटफंड से संबंधित कोई दस्तावेज नहीं मिला।
 
लगे थे ताले
एसडीएम शालिनी श्रीवास्तव चार कंपनियों की जांच के लिए निकले, लेकिन सभी बंद मिलीं। एसडीएम रवीश श्रीवास्तव को एक कार्यालय खुला मिला, लेकिन वहां से चिटफंड कंपनी गायब हो चुकी थी। एसडीएम संदीप सोनी, श्रंृगार श्रीवास्तव सहित अन्य भी खाली हाथ लौट आए।
 
इनकी हो रही है जांच
जी लाइफ डेवलपर्स, पचौऱ
रोजवैली, नंदानगर
ट्यूलिप ग्लोबल, जयपुर राजस्थान
पेनजॉन प्रालि, जावरा कंपाउंड
जीएन गोल्ड एवं जीएन डेयरी, स्कीम नंबर 54 विजय नगर
मेसर्स मदरानी डेव्लपर्स, रानीबाग, खंडवा रोड
बीएनजी ग्लोबल, नई दिल्ली
सांई प्रसाद फुड्स, एबी रोड
आरोग्य धनवर्षा, इंद्रप्रस्थ टॉवर
मेसर्स इंडस वेयर एंड कंपनी, प्रेसीडेंट टॉवर तुकोगंज
हलधरा विकास क्रेडिट को-ऑप. सोसायटी, यशवंत प्लाजा
यश फाइनेंस , दवा बाजार
बीएनपी इंडिया, ओणम प्लाजा, इंडस्ट्री हाउस
यूनीबिजी मल्टी ट्रेड प्रालि, नेहलतागंज
सिनकाम हेल्थ केयर लिमिटेड, निरंजनपुर
मालवा अंचल यूएस, गीता नगर
संचयिनी सेविंंग एंड इन्वेस्टमेंट, आरएनटी मार्ग
सांई प्रसाद फूड्स, ऐरन हाइट्स बिल्डिंग एबी रोड
 
जांच में काम करती नहीं मिलीं कंपनियां
हमने टीम बनाकर 19 कंपनियों की जांच करवाई थी। जांच में पता चला कि सभी कंपनियां वर्तमान में काम नहीं कर रही हैं। चिटफंड कंपनियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
- पी. नरहरि, कलेक्टर
 

Source : www.patrika.com...

Chit Fund Case